डॉ़ भीमराव आंबेडकर की जगह राजकीय संयुक्त चिकित्सालय करने पर दलित संगठन नाराज

0
17
सेल्फी लेने के चक्कर में हुयी तीन छात्राओं की मौत !!

सेक्टर-30 स्थित डॉ़ भीमराव आंबेडकर अस्पताल का नाम बदलकर राजकीय जिला संयुक्त चिकित्सालय करने पर सेल्फी लेने के चक्कर में हुयी तीन छात्राओं की मौत !!दलित संगठनों में नाराजगी है। शनिवार को उन्होंने अस्पताल के बाहर प्रदर्शन किया और अस्पताल का नाम डॉ़ भीमराव आंबेडकर के नाम पर करने की मांग की। उन्होंने चेतावनी दी कि यदि 19 जनवरी तक इस मुद्दे पर कोई फैसला नहीं लिया गया तो फिर सड़कों पर आंदोलन किया जाएगा।

बीएसपी यूथ संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष देवाशीष जररिया, युवा शक्ति दल के जिला अध्यक्ष रिंकू गौतम और भीम आर्मी के संजय गौतम समेत करीब 150 सदस्य शनिवार दोपहर जिला अस्पताल के सामने इकट्ठे हुए। उन्होंने शासन के खिलाफ नारेबाजी की। प्रदर्शनकारियों ने कहा कि डॉ़ आंबेडकर के नाम पर बने अस्पताल का नाम बदलकर सरकार ने दलितों की भावनाओं को ठेस पहुंचाई है।

दलित संगठनों के प्रदर्शन के कारण अस्पताल परिसर में पुलिस बल तैनात कर दिया गया था। किसी भी प्रदर्शनकारी को अस्पताल में नहीं घुसने दिया गया। सिटी मैजिस्ट्रेट महेंद्र कुमार सिंह ने प्रदर्शनकारियों से ज्ञापन लिया और उनकी मांग शासन तक पहुंचाने का आश्वासन दिया। इसके बाद प्रदर्शनकारियों ने अस्पताल के मेन गेट के पास डॉ़ भीमराव आंबेडकर जिला अस्पताल लिखे बैनर टांग दिए।